पाकिस्तान की जीत पर पटाखे फोड़ने की पोस्ट करना पड़ा भारी, 25,000 जुर्माना के साथ मांगी माफ़ी

दोस्तों हाल ही में भारत पाकिस्तान के बीच T 20 मैच खेला गया था जिसमे पाकिस्तान की जीत हुई थी. पुरे देश ने भारत की हार से उदासी का माहौल देखा गया था. लेकिन वहीँ कुछ जगहों पर पाकिस्तान की जीत का जश्न भी मनाया गया था. वहीँ सबसे पहले राजस्थान की एक स्कूल टीचर के फोन पर पाकिस्तान की जीत का पोस्ट देखा गया था.

Advertisement

महिला का नाम नफीसा अटारी था जिसने अपने व्हाटसएप पर पाकिस्तान की जीत की फोटो लगाई थी. इसके साथ महिला ने हम जीत गये भी लिखा था. फ़िलहाल मैडम को स्कूल से निकाल दिया गया है. इसके बाद अब कुछ और हिस्सों में भी पाकिस्तान की जीत का जश्न देखने को मिला है.

बिहार के किशनगंज से एक पोस्ट सोशल मिडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है . इस पोस्ट को हजारो लोगो ने शेयर किया है इसके बाद किशनगंज के पूर्व विधायक ने पुलिस से इस तरह के पोस्ट डालने वालो पर कार्यवाही करने की मांग की थी. जब पुलिस ने पुरे मामले की छानबीन करना शुरू किया तो सच सामने आने के बाद हर किसी के होश उड़ गये. एक गलत पोस्ट की वजह से पुरे देश में हंगामा खड़ा हो गया था और लोग उस पोस्ट को लगातार शेयर किये जा रहे थे.

गलतफहमी का हुआ शिकार

दरअसल 24 अक्टूबर की रात को एक पोस्ट फेसबुक पर डाला गया था जोकि काफी तेजी से वायरल भी हुआ था. इस पोस्ट को किशनगंज हलचल नाम के एक फेसबुक न्यूज ग्रुप ने डाला था जिसमे लिखा था – पाकिस्तान की जीत के बाद किशनगंज में गूंज रही आतिशबाजी !

इस पोस्ट के बाद ऐसा ही सेम पोस्ट किशनगंज टाइम्स नाम के एक दुसरे ग्रुप ने भी शेयर किया था. पूर्व विधायक की जाँच की मांग के बाद पोस्ट करने वालो को पुलिस स्टेशन बुलाया गया. जब व्यक्ति से पूछताछ की गयी तो पता चला कि पोस्ट करने वाले आदमी के घर के पास ही शादी हो रही थी जहाँ पर पटाखे फोड़कर शादी की खुशियाँ मनाई जा रही थी. जबकि पोस्ट करने वाले व्यक्ति को लगा वे लोग पाकिस्तान की जीत का जश्न मना रहे है.

बिना कुछ सोचे समझे शख्स ने पटाखे फोड़ने की फोटो खींच ली और सोशल मिडिया पर पोस्ट कर दिया कि वहां पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाया जा रहा है.

25 000 रूपये जुर्माना पड़ा भरना

किशनगंज के SP कुमार आशीष ने कहा है –  पूछताछ में उन्होंने अपनी गलती मान ली है और पोस्ट भी डिलीट कर दी है . हालांकि कुछ लोगो ने उनकी पोस्ट के स्क्रीन शोर्ट लेकर शेयर कर दिए थे तो उन सभी लोगो से भी माफ़ीनाम लिखवा दिया गया है. जितने भी लोग इस मामले में शामिल थे उन सभी से 25 हजार का एक बोंड भी भरवाया गया है. ताकि आगे से वे इस तरह की कोई गलत पोस्ट शेयर नही करे .

वहीँ किशनगंज के कांग्रेस के विधायक रह चुके तौसीफ आलम ने फेसबुक पर एक पोस्ट लिखा है जिसमे उन्होंने एक विवादित पोस्ट का स्क्रीनशॉट शेयर किया है. आगे उन्होंने लिखा है – किशनगंज हलचल जैसे नफरती ग्रुप पर बैन लगाना जरुरी है जो हर दिन इलाके को बदनाम करने में कोई कमी नही रख रहे है. उन्होंने इस ग्रुप को चलाने वाले सभी लोगो पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग भी की है.

 

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *