सैफ अली खान की 7000 करोड़ की पुश्तैनी सम्पति के वारिस नही होंगे तैमुर, जेह, जानिए वजह

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते ही है कि सैफ अली खान पटौती खानदान के 10 वे नवाब है और ये 7000 करोड़ की पुश्तैनी सम्पति के मालिक है लेकिन क्या आप जानते है कि उनकी इस सम्पति के वारिस उनके बच्चे नहो होंगे. सैफ अली खान चाहकर भी करीना कपूर के दोनों बेटे तैमुर और जहाँगीर को अपनी सम्पति में हिस्सा नही दे सकते है.

यहाँ तक वे अपने बड़े बेटे इब्राहीम को भी प्रोपटी में हिस्सा नही दे पाएंगे तो फिर उनकी सम्पति पर किसका हक होगा आइये जानते है पूरा मामला .. सैफ अली खान के परनाना हमीदुल्लाह खान उस समय भोपाल के नवाब थे जब भारत में अंग्रेज रहा करते थे.

उस समय हमीदुल्लाह के पास हरियाणा के साथ देभ में लगभर 7000 करोड़ की सम्पति थी. उनका कोई बेटा नही था और इसी वजह से उन्होंने अपनी प्रोपर्टी का वारिस बेटी आबिद को बनाया था जोकि बटवारे के बाद पकिस्तान चली गयी थी. अब हमीदुल्लाह की सम्पति बीच वाली बेटी साजिदा को मिल गयी.

साजिदा ने इफ्तियार अली खान पटौदी से शादी की थी और इस तरह इफ्तियार पटौदी के नवाब बने थे. उनकी मौत के बाद मंसूर अली खान नवाब बने और 2011 में उनकी मौत के बाद उनके बेटे सैफ अली खान नवाब बने थे. सैफ अली खान हरियाणा स्थित पटौदी के इकलौते वारिस है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 7000 करोड़ की देखभाल पहले शर्मिला टैगोर करती थी और बाद में इसकी जिम्मेदारी सैफ की बड़ी बहन सबा अली खान को दे दी थी. लेकिन इस परिवार के लिए सबसे बड़ी परेशानी तो ये है कि इस प्रोपटी की वसीयत किसी के पास नही है और इसी वजह से इसमें किसको कितना हिस्सा मिलना चाहिए ये अबतक तय नही किया गया है. इसी वजह से ये सम्पति शत्रु सम्पति विवाद अधिनियम के अंदर आती है.

यदि सैफ अली परिवार से कोई सदस्य इस सम्पति का वारिस होने का दावा करता है तो इसके लिए उसे हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट में मुकदमा लड़ना होगा. अभी तक इस सम्पति के इकलौत वारिस सैफ अली खान है और उनके बाद इसके वारिस कौन होंगे इस बात का खुलासा नही किया गया है.

क्योंकि सैफ अली खान ने सबसे पहले अमृता सिंह से शादी की थी जिनसे उनके २ बच्चे हुए है. जिस वजह से इब्राहिम उनकी सम्पति के वारिस हो सकते है. वही सैफ ने अमृता को तलाक देकर करीना कपूर से शादी की है और उनके २ बेटे है तैमुर और जहाँगीर.

हालांकि इन दोनों को पिता की सम्पति नही मिलेगी क्योंकि उसका वारिस केवल बड़ा बेटा होता है जोकि इब्राहिम है. हालाँकि ये कहा नही जा सकता कि ये सम्पति किसी को मिलेगी या नही क्योंकि ये अभी शत्रु सम्पति विभाग के कब्जे में है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.