Breaking News

मुंबई का एक लोकल गुंड़ा कैसे बना बॉलीवुड का जग्गू दादा देखिये पूरी कहानी

अगर किसी में कुछ करने का जज्बा और हुनर हो ! तो भला उसे कौन रोक सकता हैं ! दोस्तों आज हम आपको जिस सख्शियत के बारे में बताने जा जा रहे हैं ! वो कभी मुंबई की गलियों में दादागिरी किया करता था ! अपनी जीवन की गाड़ी चलाने के लिए उसने ट्रक ड्राइवरी भी की लेकिन जब मौका मिला सफल होने का तो उसे बनाते हुए मायानगरी का चमकता हुआ सितारा बन गया !

दरअसल हुआ यूं की देवानंद साहब साल 1982 में अपनी फिल्म स्वामी दादा , की शूटिंग मुंबई की एक लोकल कालोनी में कर रहे थे ! शूटिंग देखने के लिए काफी भीड़ जमा थी ! इसी भीड़ में वहां एक लोकल गुंडा भी खड़ा था ! जिसका हुलिया बाकी लोगों से कुछ अलैहदा था ! देवानंद साहब की नजर उस पर पड़ी ! उन्होंने उसे बुलाया और एक छोटा सा रोल करने के लिए कहा !

उस गुंडे ने ये रोल किया और कुछ इस तरह से किया न सिर्फ फिल्म स्वामी दादा ने बल्कि हिंदी सिनेमा में हमेशा -हमेशा के लिए अपनी जगह पक्की कर ली ! ये लोकल गुंडा कोई और नहीं बल्कि अपने जग्गू दादा थे ! जिन्हे हम सब आज जैकी श्राफ के नाम से जानते हैं ! फिल्म दुनियां में अपनी अलग पहचान रखने वाले जैकी श्राफ का जन्म 1 फरवरी साल 1957 में महाराष्ट्र के लातूर जिले के उदगदीर में हुआ था !

इनका पूरा नाम हैं ! जयकिशन काकूभाई श्रॉफ ! जैकी के पिता काकाभाई हरीभाई श्रॉफ एक गुजराती थे और उनकी माता रीता कजाकिस्तान की तुर्क थी ! जैकी का परिवार मुंबई के मालाबार हिल के तीन बत्ती एरिया में रहता था ! इनके घर की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी ! इसलिए ये ज्यादा पढ़ लिख न सके ! जैकी से बड़ा एक भाई और था जो कभी उस चाल का असली दादा हुआ करता था !

हमेशा गरीबों की मदद करने वाला जैकी का ये भाई एक दफा किसी को बचाने के लिए समुन्द्र में कूद गया ! जबकि खुद तैरना तक नहीं जानता था और इस तरह उसने अपनी जान गवां दी ! भाई के अचानक मौत के बाद जैकी ने उसकी जगह ले ली और बस्ती में भलाई का काम करने लगे ! इस तरह से जैकी जग्गू दादा बन गए ! जैकी श्रॉफ स्टाइल और कुकिंग में काफी दिलचस्पी रखते थे और शेफ बनना चाहते थे लेकिन डिग्री न होने के कारण ऐसा न कर सके !

इसके बाद इन्होने एयर इंडिया में फ्लाइट अटेंडेंट बनने की कोशिश की परन्तु इनकी कम शिक्षा इसमें भी बांधा बन गयी ! जैकी के पिता एक प्रसिद्ध ज्योतिषाचार्य थे और जैकी के बचपन में ही उन्होंने अपने बेटे के बड़ा सितारा बनने की भविष्यवाणी कर दी थी ! भाग्य ने करवट ली ! एक बार जब जैकी बस स्टॉप पर बस का इंतजार कर रहे थे ! तब एक आदमी ने उन्हें मॉडलिंग का ऑफर दिया !

अच्छे पैसा मिलता देख जैकी ने भी हामी भर दी और इस तरह जैकी के सितारा बनने की शुरुआत हुई ! जैकी भाग्य का जोरों पर था ! साल 1982 में भरी भीड़ में से ये देव साहब को पसंद आ गए और उनकी फिल्म स्वामी दादा में काम भी मिल गया ! इसके बाद जैकी फिल्मों में ही काम तलाशने लगे ! अब इसे जैकी का नसीब भी तो कहेंगे कि उस समय मशहूर निर्देशक शुभाष घई स्टार संस से परेशान होकर अपनी फिल्म हीरो के लिए किसी नए चेहरे की तलाश कर रहे थे !

यह फिल्म जैकी श्रॉफ को मिल गयी ! इसमें इनकी जोड़ी नवोदित अदाकारा मीनाक्षी शेषाद्री के साथ बनाई गयी ! शुभाष घई को जयकिशन नाम पुराना और बड़ा लगा इसलिए उन्होंने इसे जैकी कर दिया ! फिल्म हीरो 1983 की अत्यंत ही सफल फिल्म रही ! हीरो की सफलता के बाद बॉलीवुड में भी जैकी श्रॉफ की दादागिरी चल निकली !

इसके बाद जैकी ने अंदर बाहर , जूनून और युद्ध , जैसी फिल्मे की ! साल 1986 में जैकी श्रॉफ की फिल्म कर्मा , आयी फिल्म न सिर्फ ब्लॉकबस्टर साबित हुई बल्कि उस साल की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म रही ! जैकी का सिक्का अब पूरी तरह चल चूका था ! आगे के सालों में खलनायक , राम लखन , तेरी महरबानियां , गर्दिश और किशन कन्हैया जैसी फिल्मों से जैकी ने मायानगरी में धूम मचा दी !

अब आलम तो ये था की निर्देशक स्टारकॉस्ट बदलकर जैकी को साइन करने लगे ! किंग ,अंकल और अल्लाह रखा , ऐसी फिल्मे हैं ! जिनमे निर्देशक की ओरिजिनल चॉइस अमिताभ बच्चन थे लेकिन बाद में ये फ़िल्में जैकी श्रॉफ के खाते में आई ! लगातार सफलता के बाद अब समय था जैकी की प्रतिभा को सम्मान मिलने का !

साल 1989 में आई फिल्म परिंदा , ने जैकी की करियर में एक नयी ऊंचाई दी जैकी को इस फिल्म के लिए बेस्ट एक्टर का फिल्मफेयर , अवॉर्ड दिया गया ! इसके बाद साल 1994 में आयी फिल्म 1942 , अ लव , स्टोरी और साल 1995 में आई रामगोपाल वर्मा की फिल्म रंगीला , के लिए जैकी श्रॉफ को बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर का फिल्मफेयर , अवॉर्ड दिया गया !

जैकी श्रॉफ का फिल्मों में एक तकिया कलाम भी रहा हैं ! भिड़ू जिसे वो निजी जिंदगी में भी बहुत ज्यादा बोलते हैं ! जैकी इंडस्ट्री के ऐसे अभिनेताओं में से हैं ! जिन्होंने सिनेमा में काम ही नहीं किया बल्कि अच्छे से जिया हैं ! तभी तो आज भी ये फिल्मों में बिना किसी ब्रेक के लगातार सक्रिय हैं !

पिछले कुछ सालों में जैकी ने happy . न्यू year , धूम. 3 , brother . raw और मायावान जैसी फ़िल्में की हैं और तो और हाल ही में वो एक वेबसीरिज क्रिमिनल justice में जबरदस्त रोल में नजर आये थे ! जिस तरह से जग्गू दादा का फिल्मों में आना एक अचंभव था उसी तरह इनकी जिंदगी में पत्नी aisa का आना भी एक इत्तेफाक था !

दरअसल हुआ कुछ यूं की एक दफा जैकी कही जाने के लिए बस में चढ़े तो उसमें एक 13 साल की लड़की बैठी हुई थी ! दोनों ने एक दुसरे को देखा और दिल दे बैठे ! यहां मजेदार बात तो ये हैं की जब जैकी श्रॉफ की aisa से पहली मुलाकात हुई ! उस समय ये किसी और के साथ रिलेशन में थे ! खैर aisa अमेरिका पढ़ाई के लिए चली गयी !

जैकी ने अपनी इस गर्लफ्रेंड को एक पत्र लिखा और जैकी की पत्नी बनने की अनुमति मांगी ! इस तरह वक्त के साथ -साथ इन दोनों का प्यार परवान चढ़ा ! आखिरकार लम्बे समय तक साथ रहने के बाद जैकी श्रॉफ ने aisa से शादी कर ली ! aisa खुद भी एक मॉडल और अदाकारा रही हैं लेकिन ज्यादा सफल न हो पाने की वजह से वो इंडस्ट्री हट गयी !

हालांकि बाद में जैकी श्रॉफ और aisa श्रॉफ ने अपना एक पर्सनल हाउस भी खोला ! aisa से जैकी श्रॉफ की एक बेटी कृष्णा और बेटा टाइगर श्रॉफ भी हैं ! टाइगर फिल्म हीरोपंती के जरिये बॉलीवुड में जबरदस्त एंट्री कर चुके हैं और फिलहाल वर्तमान के सफल अभिनेताओं में गिने जाते हैं ! आज जैकी श्रॉफ के पास सब कुछ हैं ! फिल्मों में लगातार काम सफल करियर और एक सफल परिवार बावजूद इसके इनकी सादगी और जिन्दाजलि जैकी श्रॉफ को एक बेमिशाल अभिनेता और एक अच्छा इंसान साबित करती हैं ! धन्यवाद !

About NK Thakur

Check Also

मोदी सरकार ने ये बदलाव क्या किये भारत का खजाना हुआ आजतक के सबसे टॉप पर

इस बात से तो कोई नहीं नकार सकता है कि की इस  वायरस ने पूरी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *