कैसे करोड़ो कमाने वाला नीरव मोदी बन गया भगोड़ा ?

ठग्स ऑफ हिन्दुस्तान की ये कहानी शुरू होती हैं ! बनासकांठा जिला पालनपुर गुजरात से बेंटले कार से चलने वाला 20 , 000 करोड़ रुपये सालाना कारोबार करने वाला करीब 149 अरब की संपत्ति का मालिक नीरव मोदी अचानक देश छोड़कर फरार हो गए ! ये खबर चौकाने वाली थी ! सवाल उठे की आखिर ऐसा क्या हुआ कि अरबों का हीरा कारोबारी देश छोड़कर भाग गया !

हीरों का कारोबार नीरव मोदी को विरासत में मिला था !कई पीढ़ियों ने जिस नाम को हीरे की चमक से चमकाया ! उस नाम को नीरव मोदी के ठगी ने मिटटी में मिला दिया !

नीरव मोदी इस वक्त कहा हैं ! ये कोई नहीं जानता ! नीरव के खिलाफ रेट वालों ने नोटिस जारी किया हैं ! उसका भारतीय पासपोर्ट रद्द हैं ! नीरव मोदी की तलाश इस वक्त 152 मुल्कों की पुलिस को हैं !

वो कहा हैं कोई नहीं जानता लेकिन लोग ये जरूर जान चुके हैं की नीरव मोदी फ्रॉड की दुनियां का वो बेताज बादशाह हैं ! जिसने बैंक से लेकर सरकार को ऐसा ठगा की किसी को कानो कान खबर नहीं हुई !

नीरव मोदी की हैसियत और उसके फ्रॉड की कहानी सुनने से पहले प्रधानमंत्री के साथ उसकी एक तस्वीर देख लीजिये ! इस तस्वीर को लेकर सियासी गलियारी में खूब कोहराम मचा ! पंजाब नेशनल बैंक के लिए नीरव मोदी का नाम किसी बुरे सपने से कम नहीं हैं !

pnbकोनीरव मोदी ने जिस तरह ठगा वैसी ठग हिन्दुस्तान में आज से पहले न किसी ने सुनी न देखी ! नीरव मोदी नेmehulchoksiके साथ मिलकर पंजाब नेशनल बैंक को करीब 13 हजार करोड़ का चुना लगाया और घोटाला करके दोनों मामा और भांजे देश छोड़कर भाग गए ! नीरव मोदी ने जिस तरह से सिस्टम के खामियों का फायदा उठाते हुए बैंकों को अरबों का चुना लगाया !

ये सुनेंगे तो आप हैरान रह जायेंगे ! नीरव मोदी ने सिस्टमी खामियों का ऐसा फायदा उठाया क़ि उसकी खबर न तो बैंक को हुई न तो बैंक के किसी ऑडिट में उसका शातिराना खेल सामने आ सकता ! दरअसल उसने ऐसे तमाम लोगों को खरीद लिया था ! जो उसके करतूत में उसके काम आ सकते थे ! इन्ही लोगों की मदद से उसने बड़े ही शातिराना ढंग से सिस्टम के लुक को रुपये छापने की मशीन में बदल दिया !नीरव मोदी ने बैंक को जिस तरह से ठगा वैसा पहले कभी सुना नहीं गया था ! चलिए आपको बताते हैं !

नीरव मोदी की 420 की वो कहानी जिसने उसे बना दिया सबसे बड़ा ठग्स ऑफ हिंदुस्तान !सीबीआई और पुलिस के मुताबिक़ 13 हजार करोड़ रुपये के घोटाले कामास्टर mined नीरव मोदी हैं !

जिसनें अपनी पत्नी अमी मोदी अपने भाई नेहल मोदीऔर अपने बिज़नेस पार्टनर मेहुल के साथ मिलकर देश के सबसे बड़े बैंक में घोटाले को अंजाम दिया ! हुआ ये की नीरव मोदी और उसकी पत्नी उनके भाई नेहल और साथ मेहुल को अपने तीन कंपनियों के लिए कुछ सामान मंगाया था ! सामान हांगकांगसे खरीदा जाना था ! सवाल ये था की सामान के लिए पैसे कहा से आएंगे !

इसके लिए इन्होने 16 जनवरी 2018 को मुंबई के पंजाब नेशनल बैंक से संपर्क किया ! उन्होंने पंजाब नेशनल बैंक से कहा की वो इन सामानों को मंगाने के लिए एक लेटर और अंडरटेकिंग जारी कर दे ! लेटर और अंडरटेकिंग का सीधा मतलब ये हैं कि सामान के लिए बैंक नीरव मोदी को पैसे देने के लिए तैयार हैं ! pnbऐसा करने के लिए तैयार भी हो गया !

2018 में जब बैंक ने लेटर कोअंडरटेकिंग करने के बदले में नीरव मोदी से 280 करोड़ रुपये न जमा करने को कहा ! तो नीरव मोदी की ओर से कहा गया की बैंक उन्हें बिना नगद जमा कराये लेटर ऑफ undertaking जारी करता रहा हैं ! इस पर एक अधिकारी को शक हुआ और बैंक ने इस मसले पर अपनी ओर से जांच पड़ताल शुरू कर दी !

उसके बाद जो सामने आया वो हैरान करने वाला था ! जांच में पता चला की नीरव मोदी उनकी कंपनी या उनके किसी पार्टनर का बैंक में कोई रिकॉर्ड नहीं हैं ! जांच आगे बढ़ी तो पता चला की नीरव मोदी इस बैंक के दो अधिकारियों के साथ मिलकर फर्जी तरीके से लेटर ऑफ undertaking बनवाता रहा हैं ! ये अधिकारी बैंक के सिफ्ट मैसेजिंग में खेल करके नीरव मोदी को फायदा पहुंचाते रहे !

 

बैंक के कुछ अधिकारियों नेनीरव मोदी को विदेश में क्रेडिट हासिल करने के लिए लेटर ऑफ अंडरटेकिंग जारी कर दिए लेकिन वो पंजाब नेशनल बैंक के पूरी सिस्टम में कभी दर्ज नहीं हुए !

मतलब नीरव मोदी और उनके साथियों को बैंक से मोटी रकम तो मिल गयी लेकिन नीरव मोदी खुद पंजाब नेशनल बैंक को पैसे देने की जिम्मेदारी से बच गया ! नीरव का पूरा खेल 2011 में शुरू हुआ था और बैंक की ओर से इसे जनवरी 2018 में पकड़ा गया ! शुरू में तो सीबीआई को नीरव और उसके ठग्स गैंग की तलाश केवल 280 करोड़ रुपयों के मामले में थी लेकिन जांच बढ़ी तो पता चला की नीरव मोदी और उनके साथियों ने बैंक को करीब 13 हजार करोड़ रुपये का चुना लगा दिया हैं !

कोई रिकॉर्ड न होने की वजह से न तो इस घोटाले की खबर बैंक को हुई न आरबीआई को इसकी भनक लगी और नीरव मोदी ने ठग्स ऑफ हिन्दुस्तान की सबसे बड़ी दास्तान लिख डाली !शाम कितनी शानदार थी ! इसका अंदाजा इन तस्वीरों से लगा लीजिये ! तारीख थी 14 अक्टूबर साल था 2016 ! फिजाओं में हलकी ठंडक थी और जोधपुर का भवन नीरव मोदी ब्रांड की 5 साल पूरे होने का जश्न मनाने के लिए तैयार था !

औरतें नीरव मोदी ब्रांड के गहनो से लदीहुई थी ! पार्टी में बॉलीबुड से लेकर देश के करोड पतियों का जंगथ लगा था ! ये नीरव मोदी का वो जलवा था ! जिसकी झलक हिंदुस्तान ने पहली बार देखी थी ! एक के बाद एक मोदी अपने कलेक्शन दुनियां के शहरों में लांच कर रहा था और दुनियां नीरव के हीरे की चमक को हैरानी से देख रही थी ! नीरव का भरोसा सातवे आसमान में था और उसका कारोबार दिन रात 3 गुना और 4 गुना बढ़ रहा था !नीरव मोदी ने साल 2015 में जब न्यूयोर्क के मेडिसिन वैल्यू में अपना बुकी खोला !

तो ये साबित हो गया की डायमंड की कारोबार में नीरव का सितारा बुलंदियों पर हैं ! इस फंक्शन में नीरव ने डोनाल्ड ट्रम्प के आलावा हॉलीवुड स्टार्स नाओमी अवार्ड्स अमेरिका के सुपर मॉडल पद्मा लक्ष्मी के साथ और भारत से लीजा हेडन और वो पार्टी शानदार थी ! तब तक नीरव मोदी अपनी कंपनी से 7 गुना बड़ी और अमेरिका की 120 साल पुरानी कंपनी सैनबर्ग को खरीद चूका था ! 2014 में नीरव मोदी ने नई दिल्ली के डिफेन्स कॉलोनी में पहला प्लास्टिक स्टोर खोला !2016 हांगकांग में नीरव मोदी ने दो और बुकी खोली ! नीरव की ख्वाहिश 2025 तक दुनियां में कुल 100 स्टोर खोलने की थी लेकिन उससे पहले नीरव मोदी का ख्वाब उसके करतूते की भेट चढ़ गया !

नीरव मोदी आज कहा हैं ! ये कोई नहीं जानता 152 मुल्कों की पुलिस को नीरव मोदी की तलाश हैं लेकिन इस बीच ठगी से कमाई और जुटाई हीरों मोती की संपत्ति को e. t ने जप्त करना शुरू कर दिया हैं ! प्रवर्तननेविशालय ने न्यूयोर्क में नीरव मोदी की 216 करोड़ रुपये की दो अचल संपत्ति जप्त कर ली हैं ! लंदन की marathon हाउस से नीरव की बहन पूर्वी मोदी का 57 करोड़ रुपये का फ्लैट जप्त किया जा चूका हैं !

सिंगापूर में पूर्वी मोदी और उनके पति मयंक मेहता का 44 करोड़ रुपये का खाता सिंगापूर में अटैच किया जा चूका हैं ! इसके अलावा पूर्वी मोदी और नीरव मोदी से सम्बंधित 5 अन्य खाते अटैच किये जा चुके हैं ! बताते हैं की इन खातों में करीब 278 करोड़ रुपये का बैलेंस था ! यही नहीं नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी का दक्षिण मुंबई में स्थित 19 करोड़ 5 लाख रुपये का फ्लैट जप्त कर चुकी हैं !

यही नहीं 22 करोड़ 69 लाख की ज्वेलरी हांगकांग से वापस मंगाकर अटैच की जा रही हैं ! मतलब साफ़ हैं ठगी से बनाई नीरव मोदी की दुनियां में अब आग लग चुकी हैं ! जिसके बाद नीरव मोदी का आज नहीं तो कल कानून के आगे घुटना टेकना तय हैं !

दुनियां अब इस चेहरे को ठग्स ऑफ हिन्दुस्तान कह रही हैं ! कल तक जिस नीरव मोदी की पहचान सफल हीरा कारोबारी की थी ! वो आज हिन्दुस्तान के सबसे बड़े ठग के तौर पर पहचाना जा रहा हैं ! नीरव मोदी का वर्तमान भले ही ठगी के आरोपों से जाना जाता हो लेकिन कुछ साल पहले उसके जिंदगी के चमक के आगे हीरे की चमक फिकी थी !

नीरव मोदी की जिंदगी हमेशा हीरे की चमक के इर्द गिर्द रही ! बचपन में नीरव ने जब अपना होश संभाला तब तकपिता का हीरों का कारोबार जम चूका था ! पिता पारम्परिक हीरे के जौहरी थे और नीरव की मां फैशन डिजाइनर थी ! साल 1960 में नीरव के पिता कारोबार के लिए सिंगापूर से बेल्जियम आ गए ! वही नीरव का जन्म हुआ लेकिन साल 90 का दशक आते -आते परिवार आर्थिक दिक्कतों से गुजरने लगा ! जिसके चलते नीरव ने पढ़ाई छोड़ दी और मामामेहुल choksiके साथ कारोबार की बारीकियां सीखनी शुरू कर दी !

19 साल की उम्र में नीरव मोदी मामा मेहुल चॉप्सी के साथ बेल्जियम से भारत आ गए !10 साल तक नीरव मोदी ने 12 घंटे तक काम किये ! नीरव को बदले में 3 हजार 500 महीना मिलते थे ! इसी बीच नीरव ने ज्वेलरी डिजाइन करने का काम सीखा ! नीरव का डिजाइन किया गया पहला गले की ज्वेलरी जब बिका ! तो उसकी कीमत थी साढ़े 16 करोड़ रुपये आभूषण के काम में नीरव मोदी दिलचस्पी लगातार बढ़ रही थी ! ये वो दौर था जब नीरव ने हीरे की कारोबार में अपने पांव जमाने शुरू कर दिए ! नीरव मोदी के जिंदगीका सबसे बड़ा लम्हा तब आया जब न्यूयोर्क के मेडिसिन वैल्यू में उसने अपना पहला स्टोर खोला ! इसका उद्घाटन करने के लिए नीरव ने डोनाल्ड ट्रम्प को बुलाया !

तब डोनल ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति नहीं थे लेकिन बिज़नेस की दुनियां में ट्रम्प का डंका बज रहा था !साल 1999 में नीरव मोदी ने फाइव स्टार डायमंड की इंटरनेश्नल नाम की पम्प शुरू की इस पम्प का काम था खरीदना और बेचना साल 2010 आते -आते नीरव मोदी हीरेके कारोबार का बड़ा नाम बन चूक था लेकिन जब हैदराबाद , कोलकुण्डा खादान से निकले ! 12 कैरेट हीरे से उसने एक नेकलेस बनाया ! तो तहलका मच गया ! इस हार को हांगकांग में ऑप्शन के लिए रखा गया और ये हार करीब 23 करोड़ में नीलाम हुआ !

इसके तुरंत बाद नीरव ने नीरव मोदी ब्रांड्स नाम से अपना ज्वेलरी का कारोबार शुरू किया ! साल 2013 आते आते नीरव मोदी का जलवा 7 वें आसमान पर पहुंच चूका था ! घोस्ट के लिस्ट में इंडियन लिस्ट में नीरव मोदी का नाम शामिल था ! साल 2014 में जब नीरव मोदी का एक नेकलेस 50 करोड़ रुपये में निलाम हुआ ! तो उसकी माली हैसियत 1. 7 . 3 अरब डॉलर यानि की करीब 110 अरब रुपये के करीब पहुंच गया था और कंपनी का रेमेनु 2 . 3 अरब डॉल यानि करीब 149 अरब रुपये के पार पहुंच गया !2017 में भी नीरव मोदी को मशहूर पत्रिका cops में जगह दी ! कॉप्स के मुताबिक़ नीरव मोदी की उस वक्त की कुल संपत्ति करीब 149 अरब रुपये थे लेकिन नीरव मोदी की जिंदगी में वो दौर आना बचा था ! जिसके बारे में नीरव मोदी के खानदान में किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था ! धन्यवाद !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *