Breaking News

एलोन मस्क दुनिया के सबसे अमीर आदमी कैसे बने और उनके सपने को किसतरह से साकार किया

स्पेस- एक्स के संस्थापक और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क दुनिया के सबसे अमिर व्यक्ति बन गए हैं !उनकी कुल सम्पति 185 बिलियन डॉलर यानि करीब (1 खरब 85 अरब डॉलर )को पार कर गयी है बीते गुरुवार को मस्क की कंपनी में शेयर की कंपनी ने शेयर की कीमतों में बड़ा उछाल देखा, जिसके बाद कुल सम्पति के मामले में वे पहले पायदान पर पहुंच गए ये जगह है मस्क ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफार्म ‘अमेज़न ‘ के संस्थापक जेफ़ बेज़ोस को पीछे छोड़कर हासिल की है !जेफ़ बेज़ोस साल 2017 से इस स्थान पर थे। मस्क की एलेक्ट्रीक कार कंपनी टेस्ला ने इस साल अपनी मार्किट वैल्यू में काफी वृद्धि की है, बुधबार को ये पहली बार 700 बिलियन डॉलर तक पहुंच गयी जो कार कंपनी टोयोटा ,फॉक्सवैगन ,हुंडई ,जीएम और फोर्ड की कुल मार्किट वैल्यू से अधिक है!अमेरिका के कई आर्थिक विस्लेसनो ने लिखा है की अमेरिका में सत्ता बदलने के बाद एलन मस्क की कंपनी का भविष्यऔर भी सुनेहरा हो सकता है उनका मानना है की डेमोक्रेट के आने से इलेक्ट्रिक कंपनी टेस्ला का काम और भी बढ़ेगा क्योंकिपीडेनन की पार्टी में चुनाव अभियान में गर्डन एजेंडा को बढ़ावा देने के लिए लगातार वादे किये थे, एलन मस्क के कम का दायरा सिर्फ भविष्यकी कारेंबनाने वाली कंपनी तक सिमित नहीं है ,उनकी कंपनी टेस्ला इलेक्ट्रिक कारों में लगने वाले पुर्जे और बैटरियां बनाती है जिन्हें दूसरे कारनिर्माताओं को बेचा जाता है

वे घरों में लगने वाले सोलर सिस्टम बनाते हैं जिसकी मांग वक़्त के साथ बड़ी है , वे एक अंतविक्स कंपनी भी चलातेहैं साथ ही वे अमेरिका में सुपर फ़ास्ट अंडरग्राउंड ट्रंसपोर्ट सिस्टम का खाता तैयार कर रहे हैं ,आज के समय में एलन मस्क की पहचान एक अमेरिकी उद्यमी के तोर पर है और उनका जन्मदक्षिण अफ्रीका में हुआ था उनकी माँ मूल रूप से केनेडा की है और पिता दक्षिण अफ्रीका के थे !मस्क के मुताबित उन्हें बचपन से ही किताबें पढ़ने का बहुत शौकथा वे कहते हैं मैं बचपन में बहुत ज्यादा शांत रहता था, इस वजह से में परेशान भी बहुत किया गया दस साल की उम्रमें एलन मस्क ने कंप्यूटर प्रोग्राम सीखी और बारह साल की उम्र में राष्ट्र नामक एक वीडियो तैयार किया जिसे एक स्थानीय मैगज़ीन में 500 डॉलर में ख़रीदा एलन मस्क की पहली व्यापारिक उपलब्धि कहा जा सकता है 49 साल के एलन मस्क के बिजनस की शुरुआत असल में साल 1999 में हुई जब उन्होंने और उनके भाई किम्बल ने अपनी सॉफ्टवेयर कंपनी ज़िप 2 के लिए एक सफल डील तलाश ली इससे मिले पैसे को 27 साल की उम्र में मस्क ने एक नयी कंपनी में लगाया जिसका नाम था एक्स डॉट कॉम अब इस कंपनी का दावाहुआ था की वो पैसा ट्रांसफर करने की व्यवस्था में क्रांति लानेवाली है

मस्क की इसी कंपनी को आज पे पाल के नाम से जाना जाता है जिसे साल 2002 में एबेन ने खरीद लियाथा और इसके लिए मस्क को 65 मिलियन डॉलर मिले थे !ये उनके करियर की बड़ी उपलब्धि थी इसके बाद मस्क ने अंतरिक्ष की तकनिकी को प्रमाणकरना शुरू किया उनके इसी प्रोग्रेम को स्पेस एक्स का नाम दिया गया जिसमे कहा की मनुष्य आने वाले वक़्त में दूसरे ग्रहो में भी रह सकते हैं। साल 2००4 में एलन मस्क ने इलेक्ट्रिक कार कम्प्लीट टेस्ला की बुन्याद रखी और उन्होंने कहा भविष्यमें सब कुछ इलेकट्रिक होगा स्पेस में जाने वाले रॉकेट भी और टेस्ला इस बदलाव को लानेमें अहम भूमिका निभाएगी कुछ साल हुए इस इन्टरव्यू में मस्क ने कहा था में नहीं जानता की मेरे पास कितनी सम्पति है ये इस तरह से नहीं है की कही नोट के बण्डल पड़े हुए हैं इसे ऐसे देखना चाहिए की टेस्ला स्पेस एक्स और सोलर सिटी में मेरी कितनी हिसेदारी है और बाजार में उस हिसेदारी की कुछ कीमत है पर मुझे वाकई इससे फर्क नहीं पड़ता क्योंकिमेरे काम करने का लक्ष्य ये नहीं है !रोलेट लिखते हैं की मस्क का ये जरिया शायद काम कर रहा है

उनके पास आज जितनी सम्पति है उनमे वो चाहे तो दुनिया में कई कार निर्माता कंपनियों को एक साथ खरीद सकते हैं वे इस साल 50 साल के हो जायेंगे पर एक दौलत मंद शख्स के तोर पर दुनिया को अलविदा कहने का उनका सपना बिलकुल भी नहीं है मस्क कहते हैं की वे मंगल गृह पर एक बेस बनाने में अपनी पूंजी का सबसे बड़ा हिस्सा लगाना चाहते हैं और उन्हें कोई आश्चर्य नहीं होगा अगर उन्होंने इस मिशनको सफल बनाने में अपनी सारी पूंजी लगा दी मंगल गृह में मनुष्य का एक बेस मस्क की नजर में एक बहुत बड़ी सफलता होगी वे मानते हैं की इससे भविष्य बेहतर होगा।स्पेस एक्स की स्थपना को लेकर बी बी सी में हुए इन्टरव्यू में मस्क ने कहा था मेने कंपनी इसलिए बनाई क्योंकिमें इस बात से असंतुष्ट था की अमेरिकीस्पेस एजेंसी अंतरिक्ष अन्वेषण को लेकर और महत्वकांक्षी क्यों नहीं हैं वो क्यों और आगे का सोच पा रही में उम्मीद करता हु की भविष्य में चाँद और मंगल गृह में हमारा बेस हो वहां के लिए लगातार फ्लाइट चले मस्क चाहते हैं की लोग उन्हें एक निवेशक से ज्यादा एक इंजनियर के रूप में जाने रोलेट से इन्टरव्यू में उन्होंने कहा था

में हर सुबह किसी नई तकनीकीसमस्या का हल ढूंढ़ने के लिए उठना चाहताहूँ बैंक में कितना पैसा है इसे में सफलता का पैमाना नही मानता रोलेट लिखते हैं मस्क कार उद्योग में क्रन्तिकारी लाभ लाना चाहते हैं वे मंगल ग्रह पर कॉलोनी बनाना चाहते हैं !वेक्यूम टंडन में चलने वाली सुपर फ़ास्ट ट्रेने चलाना चाहते हैं मनुष्यों के दिमाग से यानि ए आई (आर्टिफीसियल इटेलिजन्स )को जोड़ना चाहते हैं और सौरऊर्जा से दुनिया चलाना चाहते हैं इन सभी चीजों में एक चीज सामान है वो ये है की ऐसी भविष्यकी कल्पनाए आपको 1980 के दशक की शुरुआत में मिलने वाली बच्चों की पत्रिकाओं में मिलती थी और इसमें कोई छिपी हुई बात नहीं की मस्क का बचपन दक्षिण अफ्रीका में बहुत सारी पत्रिकाएं किताबें पढ़कर और फिल्मे देखकर गुजरा मस्क बदलाव की धीमी गति में विश्वास नहीं रखते वे जल्द से जल्द जीवाश्म इंधनो को पीछे छोड़ देना चाहते हैं साथ ही मानवता के अस्तित्व को लम्बे समय तक बनाये रखने के लिए वे मंगल ग्रह पर उपनिवेश विकसित करने के पक्षधर हैं !एलन मस्क जोखिम उठाने वाले शख्स हैं और उन्होंने ये साबित किया है 2008 में जब दुनिया ने आर्थिक मंदी का सामना किया तो मस्क की हालत भी कभी खराब हो गयी थी इसके बाद उनकी नई कंपनियों ने कई असफलताएं देखी स्पेस एक्स के पहले तीनो लॉन्च फेल हुए पेसला में भी उत्पादों से जुडी कई समस्याए आतीरही और मस्क तंगी में फंस गए अपने साक्षातकारमें एलन मस्क ने बताया था की एक वक़्त ऐसा भी आया जब उन्हें अपने खर्चों के लिए दोस्तों से पैसे उधार लेने पड़े, पर क्या उन्हें कभी दिवालिया होने का डर नहीं हुआ ? इस सवाल के जवाब में एलन मस्क ने जस्टरोडर से कहा था

ज्यादा से ज्यादा क्या होता मेरे बच्चों को सरकारी स्कूल में जाना पड़ता ,तो इसमें क्या बड़ी बात होती में खुद सरकारी स्कूल में पढ़ा हूँ !रॉलेट लिखते हैं हमारी मुलाकात के दौरान मेने पाया था की मस्क एक चीज से निराशजरूर थे और वो है आलोचनाएं उनका कहना था की आलोचनाएं किसी के आधार पर होनी चाहिए, पर यहाँ पर तो लोग खुले तोर पर तसला के डूबने का इंतजार कर रहे हैं हालाँकि उन्होंने कहा की आलोचनाओ की वजह से अपने इरादों में बदलाव नहीं करते मस्क के मुताबिकजब उन्होंने स्पाक्र्स की नीव रखी थी तब उन्हें खुद विश्वास नहीं था की वो इससे पैसेकमा सके एलन मस्क को करीब से जानने वाले कहते हैं की उन्हें काम करने की लत है टेस्ला मॉडल तैयार करते हुए उन्होंने कहा था की वे हफ्ते में 120 घंटे काम करते हैं और उसमे उन्हें मजा आताहै !कोरोना महामारी के दौरान जब सेहन फ्रांसि को उनकी फैक्ट्री को बंद करना पड़ा तो लॉकडाउनके पार्टीबद्धो के खिलाफ एलन खुल कर बोले ,उन्होंने कहा जो लोग महामारी का हऊआ बना रहे हैं वो बेवकूफ हैं उन्होंने घर में रहने के आदेशों को जबरदस्ती बताया और कहा की कोविड लॉकडाउन सवेधानिक अधिकारों के खिलाफ है,महामारी के दौरान ही एलन मस्क के घर बेटे का जन्म हुआ जिसका नाम इस मोके पर उन्होंने ट्विटर के जरिये दुनिया को बताया की उन्होंने अपने बेटे का नाम एक्स,ए,इ,12 रखा है। कुछ लोग मानते हैं की एलन मस्क के मन को पढ़ा नहीं जा सकता है और उनके व्यव्हार का पूर्वानुमान मुश्किल है लेकिन इसका उनकेउपर जरा भी असर नहीं दिखता बतौर उद्यमी वे एक पारदर्शी इंसान है सितबर 2020 में उन्होंने कहा की जल्द ही उनकी सभी कारे सेल्फ ड्राइविंग वाली होंगी वे अगले तीन वर्षो में इलेक्ट्रिक कारें लाने का भी इरादा रखते हैं।

About NK Thakur

Check Also

KBC कंटेस्टेंट बोली मुझे आपसे गले मिलने का कोई शौक नही है, शाहरुख़ ने दिया ऐसा रिएक्शन

दोस्तों KBC को सालों से बॉलीवुड के नायक अमिताभ बच्चन होस्ट कर रहे है लोगो …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *