1 रूपये में इडली खिला कर लोगो का पेट भरती बुजर्ग महिला, आनन्द महिंद्रा ने कर दिया घर गिफ्ट

दोस्तों दुनिया में सबसे बड़ा दान किसी को खाना खिलाना है. पिछले साल कोरोना महामारी के समय हजारो लोगो ने दुसरो को खाना खिलाया था. कई लोगो ने दान धर्म का काम किया था. ऐसे ने एक बुजर्ग महिला ने 1 रूपये मेंइडली की थाली से लोगो का पेट भरा था.

महिला का नाम कमलाथन है जोकि तमिलनाडु की रहने वाली है. सबसे बड़ी बात तो ये है कि महिला के पास खुद के रहने के लिए कोई घर नही है लेकिन वह 1 रूपये में लोगो को इडली सांभर खिला रही थी . महिला के पास घर में गैस कनेक्शन तक नही है और न ही अच्छा घर है

इसके बावजूद उसने धर्म का काम करते हुए लाखो लोगो को 1 रूपये में इडली साम्भर खिलाया है. जब तमिलनाडु की अम्मा कि कहानी लोगो तक पहुंची तो उन्होंने उनके काम की तारीफ की है. हर कोई कमलाथल के नेक काम के बारे में जानकर खुश हो गया. कुछ लोगो ने तक ये तक कह दिया – खुद के पास घर नही है और ऐसे में कमाई करने की बजाय 1 रूपये में लोगो को खाना खिला रही है.

महिला के घर की आर्थिक स्थिति खराब है जब लोगो को इस बात की जानकारी हुई तो कई लोग उसकी मदद करने के लिए आगे भी आये. जिसमे से कुछ लोगो ने राशन की व्यवस्था भी की. कमलाथल एक छोटे से गाँव सेलम की रहने वाली है. जोकि हर रोज लोगो को भरपेट खाना खिलाती है. अम्मा का कहना है कि जब तक मैं जिन्दा हूँ किसी को भूख की वजह से मरने नही दूंगी.

अम्मा मात्र 1 रूपये में इडली सांभर और नारियल की चटनी खिलाती है. इस बात का पता जब आनन्द महिंद्रा को लगा तो उन्होंने ट्विटर पर इस बात की जानकारी दी कि कम्पनी महिला के लिए घर बनाकर देगी और हर महीने हजार लोगो के लिए राशन भी भेजेगी. इस घोषणा को पढकर लोग आनन्द महिंद्रा के काम की तारीफ कर रहे है.

कुछ लोगो ने कहा है हमे भी अम्मा की मदद करनी चाहिए ताकि वे लोगो को खाना खिलाती रहे. अम्मा बिना किसी स्वार्थ के लोगो को भरपेट खाना खिला रही है. उनके जैसा काम शायद ही किसी ने किया होगा. उनके काम से आनन्द महिंद्रा इतने ज्यादा प्रभावित हुए कि उन्होंने अम्मा के लिए घर बनाने और राशन देने की घोषणा कर दी है. आनन्द महिंदा दान धर्म करने में सबसे आगे रहते है. वे अक्सर लोगो की मदद करते है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.