दो कम्पनिया चाइना में बंद होने जा रही हे वो भी भारत में लगने वाली हे कौन कौनसी चीन को बहुत बड़ा झटका

2 कंपनी द्वारा चाइना की मैन्युफैक्चरिंग प्लांट बंद करके भारत में मेनू फैक्ट्री चार्ट करने की बहुत बड़ी खबर निकल कर आ रही है और इसकी वजह से कई करोड़ों रुपए का नुकसान सहना को होने जा रहा है। पहली खबर सैमसंग की तरफ से आ रही है जहां सैमसंग की डिस्प्ले मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटी का काम पूरा हो चुका है और भारत में निवेश की मैन्युफैक्चरिंग अब कुछ ही दिनों में शुरू की जाने वाली है। मोबाइल डिस्प्ले की यह मैन्युफैक्चरिंग पहले चैनल स्थिति जिस को पूरी तरीके से बंद करके उत्तर प्रदेश के नोएडा में शतक किया जा चुका है।

 फैक्ट्री के निर्माण कार्य के खत्म होने के बाद कुछ ही दिनों में चाणक्य प्लांट से मशीनरी भारत लाई जाएगी और इस साल के खत्म होने से पहले भारत में मेनिफेस्टेड पेंशन केस में लोकलाइजेशन लेवल काफी ज्यादा बढ़ जाएगा क्योंकि इन सभी पोस्ट में मेड इन इंडिया एक्सप्रेस का समास होगा और भारत में मैन्युफैक्चर डेट डिस्प्लेस ना केवल सांसद बल्कि भारत के और भी मैंने फैक्ट्री अपने पोस्ट में संभाल कर पाएंगे। दूसरी खबर आ रही है। टेक्नोक्राफ्ट की तरफ से जितने चाहने में स्थित अपनी मैन्युफैक्चरिंग प्लांट में अपने प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग बंद कर दी है। फर्स्ट प्रोडक्ट एक कोड की पूरी जरूरत को अब भारत के प्रांत से पूरा किया जाएगा। आपको बता दें कि कंपनी चैन और भारत में ब्रह्मपुत्र तक का फोल्डिंग नफरत करती है।

 पर यूएसए कि तेरे प्रशिक्षण के बाद अचानक प्लान में इसका फोल्डिंग की मैन्युफैक्चरिंग में के एंड में बंद कर दी गई थी और भारत में का फोल्डिंग का मैन्युफैक्चरिंग आउटपुट बढ़ा दिया गया था। इससे भारत इंडिया स्पोर्ट बढ़ाया जा सके या ना में कंपनी फिलहाल ड्रम प्लस मेंबरशिप करेगी और चाइना से मिलने वाले का फोल्डिंग के आर्डर को भारतीय मैन्युफैक्चरिंग प्लांट से पूरा किया जाएगा। आपको बता दें कि इसका फोल्डिंग मेटल के पौधे खंबे होते हैं। इस समय कंस्ट्रक्शन के लिए किया जाता है। कंस्ट्रक्शन और इलेक्ट्रॉनिक की तरफ से एक-दो खबरें भारत में बहुत से लोगों के लिए नए रोजगार पैदा करेगी। लेकिन बिना मर जाएगा। अगर आपस में हुई यहां तक देख चुके हैं। धन्यवाद जय हिंद। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.