कुवैत की लड़कियां होती बहुत खूबसूरत लेकिन इसके कानून जानकर हैरान रह जाओगे

आज हम बात करने वाले है एक छोटे मगर आमिर देश के बारे में जिसका नाम है कुवैत कुवैत 9 आइलैंड से मिल कर बना हुआ है जिसे स्टेट आफ़ कुवैत भी कहा जाता है कुवैत अपनी अरबी संस्कृति और विकास की वजा से पूरी दुनिया में काफी मसूर है कुवैत की राजधानी कुवैत सिटी है

भारत की तरह ही कुवैत भी कभी ब्रिटेन का गुलाम हुआ करता था लकिन 16 जून 1961 को अंग्रेजो से आजादी मिलने के बाद कुवैत ने कभी भी पीछे मूढ़ कर नहीं देखा कुवैत में इतनी ज्यादा गर्मी पड़ती है कि कुवैत को अपना नेशनल डे बादलना पढ़ गया

1962 तक कुवैत अपना नैशनलडे 19 जून को मनाता था लेकिन 1963 से नैशनलडे 25 फरवरी को मनाया जाने लगा ऐसा करने वाला व दुनिया का पाला देश है इसका अंदाज़ा आप इस बात से लगा सकते है कि वहा का तापमान 53 डिग्री तक पहुँच जाता है कुवैत की मुद्रा कुवैति दिनारा है

जिसकी कीमत पूरी दुनिया भर में सबसे ज्यादा है अगर इसे रुपय से कन्वट किया जाए तो एक कुवेती दीनार लगभग 212 रुपए की होंगी कुवैत ने प्रति व्यक्ति आए लगभग आए 71 हज़ार डॉलर हैं सन 1913 में कुवैती दीनार के वेलूयु पूरी दुनिया सबसे ज्यादा आकि गए थी प्रतिव्यक्ति आय के मामले में कुवैत पूरी दुनिया में 5वे नंबर पे आता है

सारे अरब देशो में कुवैत ही मात्र एक ऐसा देश है जहा लोगतंत्र चलता है और जिसने क्रिचनं को भी नागरिकता दी हुई है कुवैत में लड़कियों को इलेक्स्शन लड़ने और वोट डालने का पूरा अधिकार प्राप्त है कुवैत दुनिया का 4तह सबसे आमिर देश है कुवैत का राष्ट्रीय पक्षी बॉज़ को माना जाता है कुवैत की 95 % से भी ज्यादा इनकम तेल से होती है और इसी तेल के वजा से इराक ने कुवैत पर हमला कर दिया था

जिसके बाद दुनिया की 40 देशो ने इराक के खिलाफ ज़िद का ऐलान कर दिया था ये वही क़्क्त था जब भारत सरकार 1 लाख 70 हज़ार भारतीयो को कुवैत से सही सलामत वापस ले कर आए थी और जिसकी ऊपर अपने अक्षय कुमार के फिल्म एयरलिफ्ट भी देखी होगी कुवैत में हर किसी को पूरी आजादी है दूसरे अरब देशो के तरह कुवैत ने सरियालो नहीं चलता बल्कि वह सिविललो चलता है

कुवैत एक ऐसा देश है जिसने ऊंट को सबसे पहले रोबोट के जरिए दोराहया था जिसके बाद यह पुरे अरब देश मे एक लोकप्रिय खेल बन गया कुवैत आपना 60%से भी ज्यादा तेल ऐशिया मे एक्सपोर्ट करता है कुवैद की आबादी मात्र 44 लाख है जिस मे से 10 लाख तो विदेशी है जो वहा काम की तलाश मे आए हुए है

जहा रेलवे को इंडिया की लाईफ लाइन मानी जाती है वही कुवैत मे एक भी रेलवे लाइन मौजूद नही है कुवैत ने मिडिया को भी पूरी आजादी दी है कुवैत एक ऐसा देश है जहा मीठे पानी का कोई भी सोर्स मौजूद नही है जिस की वजह से वहा समुद्र के पानी को फिल्टर कर के पीने योग्य बनाया जाता है इस के बावजूद भी कुवैत मे एक शानदार गोल्ड कोर्स भी बना हुआ है

जानकारी के लिए बता दे कि किसी भी गोल्ड कोर्स को मेनटेन करने के लिए बहुत ही ज्यादा पानी की आवश्यकता पड़ती है कतर की तरह ही कुवैत की भी मात्र 1% जमीन ही खेती के लायक है कुवैत मे रमजान के पावन महीने मे पब्लिक प्लेस मे खाना डान्स करना और लाउड म्युजिक बजाना बेन है इन सब के परे कुवैत बाकि अरब देशों से बहुत ज्यादा आजाद ख्याल वाला देश है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *