अविका ने शेयर किया वो किस्सा – जब बुर्जग ने कहा परिवार के साथ बालिका वधु देखने में शर्म आती है

दोस्तों कलर्स चैनल पर कुछ साल पहले बालिका वधु सीरियल शुरू हुआ था जिसे हर किसी ने पसंद किया था. ऐसे में बालिका वधु से अपनी पहचान बनाने वाली अविका गौर को लोग सबसे ज्यादा प्यार करते है. अविका को इसी सीरियल से एक नई पहचान मिली है.

इस सीरियल का मुख्य उद्देश्य समाज की बाल विवाह जैसी पुरानी सोच को लोगो के सामने लाना था. कई बार यही टीवी सीरियल के द्वारा दिए जा रहे मैसेज समाज में बदलाव और दर्शको के दिलो में छाप छोड़ने में कामयाब होते है. अविका अब काफी बड़ी हो चुकी है और इसके साथ ही बेहद सुंदर व् स्टाइलिश भी दिखाई देने लगी.

बालिका वधु में कैसा रहा अविका का एक्सपीरियंस

एक इन्टरव्यू में अविका ने बताया कि जब उन्हें इस शो का ऑफ़र आया तो सीरियल की कहानी सुनकर हैरान रह गयी. वे मुंबई में पली बढ़ी है और ऐसे में उस सीरियल में काम करना जो इतिहास से जुड़ा है उनके लिए थोडा मुश्किल था. इसके साथ ही वे बाल विवाह के बारे में सुनकर दंग रह गयी उन्हें बहुत दुःख भी हुआ कि कोई अपने बच्चे के साथ ऐसा कैसे कर सकता है ?

मतलब जिस उम्र में उसे पढना लिखना खेल कूद करना चाहिए उस उम्र में उसकी शादी करवा देते है. खिलोने की जगह हाथ में घर की जिम्मेदारी दे दी जाती है. नन्हे मासूम बच्चो का बचपन इस तरह कोई कैसे छीन सकता है. इस बात पर अविका ने अपने माँ बाप से भी बात की तो उन्हें पता चला कि ये घटनाएं पहले हुआ करती थी .

परिवार के साथ देखने में शर्म आती है

अविका ने आगे बताया कि साल 2010 में जब वे दिल्ल्ली में रहती थी तो उन्हें  60 साल के बुजुर्ग मिले जोकि उनके फैन थे. उन्होंने कहा कि बेटा माफ़ करना मैं तुम्हारा शो परिवार के साथ नही देख सकता हूँ. हमे शर्म आती है. अविका हैरान रह गयी उसने जब इसका जवाब पूछा तो बुजुर्ग ने बताया – हमारे परिवार में भी यही प्रथा मौजूद है और सालो से हम इसे निभा रहे है.

इसलिए हमारे बच्चे भी इससे जुड़े सवाल करते है इसलिए हम ये सीरियल परिवार के साथ नही देख सकते है. हम उनके सवालों के जवाब नही दे पाते है. हालंकि अविका से मिलने के बाद उन्होंने वादा किया है कि वो बाल विवाह की प्रथा को बंद कर देंगे. जिससे अविका को काफी प्राउड फील हुआ.

अविका ने कहा मुझे नही पता था कि उनकी बात पर मुझे कैसे रिएक्ट करना चाहिए लेकिन अगर हम एक परिवार एक इन्सान की जिन्दगी में बदलाव लेट है तो ये बहुत बड़ी अचीवमेंट होती है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कलर्स पर बालिका वधु 2 शुरू हो चूका है. क्योंकि अभी भी हमारे समाज में बाल विवाह जैसी कुरीति है. देश के बहुत कम हिस्सों में ये प्रथा आज भी मौजूद है.

अविका ने बताया कि उनके पास एक पत्रकार आये थे और कहने लगे कि – कोलकाता में 8 साल की लडकी का बाल विवाह किया जा रहा था. लेकिन वो बच्ची मंडप से खड़ी हो गयी और कहने लगी मुझे ये शादी नही करनी है क्योंकि आनंदी ने भी शादी करने से इन्कार किया था.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *